अविश्वास प्रस्ताव के बीच संसद में बिल पास करना असंवैधानिक- सुशील रिंकू

0
1

जालंधर : संसद परिसर के बाहर अपना विरोध जताते हुए सांसद सुशील कुमार रिंकू ने कहा है कि विपक्ष द्वारा सरकार के खिलाफ लाए गए अविश्वास प्रस्ताव के बीच संसद में बिल पास करना बिल्कुल असंवैधानिक है। उन्होंने कहा कि संविधान के मुताबिक जब अविश्वास प्रस्ताव पेश किया गया हो तब कोई भी बिल पास करवाने से पहले सरकार को बहुमत साबित करना जरूरी होता है लेकिन मौजूदा केंद्र सरकार संविधान की भावना से परे जाकर असंवैधानिक तरीके से बिल पास करवा रही है। उन्होंने कहा कि बाबा साहेब डॉक्टर भीमराव अंबेडकर ने संविधान इसलिए बनाया था ताकि सब कुछ कानून के मुताबिक चले लेकिन सरकार असंवैधानिक तरीके से संसद की कार्यवाही को चला रही है।

उन्होंने कहा कि पूरा देश मणिपुर हिंसा से आहत है और देश के कई राज्य बाढ़ की चपेट में है। पंजाब में 23 में से 18 जिले बाढ़ की चपेट में आ चुके हैं लेकिन प्रधानमंत्री इन गंभीर मुद्दों पर चुप्पी साधे हुए हैं। उन्होंने कहा कि इसी तरह चप्पल बनाने वाले उद्योग को भी बीआईएस के दायरे में लाया गया है जोकि सरासर गलत है क्योंकि छोटे कारोबारी इस शर्त को कैसे पूरा कर सकते हैं? रिंकू ने कहा कि इतने सारे मसले हैं जिन पर संसद में बहस की जरूरत है लेकिन सरकार मनमाने तरीके से बिल पास करवा कर कार्यवाही चला रही है। सांसद ने कहा कि सरकार को इन मसलों पर चुप्पी तोड़नी चाहिए और देश के लोगों के समक्ष सारी बातें रखनी चाहिए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here